मार्ग की रुकावटों को कौन तोड़ता है?

मार्ग की रुकावटों को कौन तोड़ता है?

इसे सुनेंरोकेंउत्तर: (क) मार्ग की रुकावटों को वीर तोड़ता है। वे अपने उत्साह, संघर्ष, सहनशीलता व वीरता से पथ की बाधाओं को दूर करते हैं।

5 काव्यांश में बार बार आदमी हो क्यों कहा गया है *?

इसे सुनेंरोकें(क) काव्यांश में बार-बार ‘आदमी हो। ‘ यह मानवोचित काम करने का आग्रह करने के लिए कहा गया है। (ख) ‘शूल के बदले फूल देना’ का तात्पर्य-दुःखों के बदले सुख देना है। (ग) जो पिछड़ रहा हो उसके साथ नई शक्ति साथ लेकर चलना उचित है।

मूर्छित सुमनों का वास्तविक अर्थ क्या होगा?

इसे सुनेंरोकेंAnswer: (d) नूतन वीणा में। ‘मुरझे सुमनों’ का वास्तविक अर्थ क्या होगा? Answer: (c) निराशा से भरे हुए सुन्दर मन।

तलवार की आवश्यकता कहाँ पड़ती है?

इसे सुनेंरोकें(ख) तलवार की आवश्यकता हिंसक पशुओं से बचने के लिए होती है अर्थात् अन्यायी को समाप्त करने के लिए इसकी ज़रूरत होती है। (ग) इसका अर्थ है-क्रांतिकारी विचारों से मन में जोश व उत्साह का बनाए रखना। (घ) वे व्यक्ति जिनमें अंदर जोश है, वैचारिक शक्ति है, उन्हें तलवार की ज़रूरत नहीं होती।

पढ़ना:   तांडव के कितने प्रकार हैं?

कविता में किसान की पीड़ा के लिए कितने जिम्मेदार बताया गया है?

इसे सुनेंरोकेंकविता में किसान की पीड़ा के लिए किन्हें ज़िम्मेदार बताया गया है? उत्तर:- कविता में किसान की पीड़ा के लिए जमींदार, महाजन व कोतवाल को ज़िम्मेदार बताया है। महाजन ने अपना ब्याज और ऋण वसूलने के लिए किसान के खेत, गाय-बैल और घर-बार बिकवा दिया।

राधा को बेसुध क्यों कहा गया है?

इसे सुनेंरोकें(ख) राधा कृष्ण की आराधिका थी। वह कृष्ण की बाँसुरी की मधुर तान पर मुग्ध थी। वह हर समय उसमें ही खोई रहती थी। इस कारण उसे बेसुध कहा गया है।

कवि के अनुसार सच्चा मनुष्य कौन है?

इसे सुनेंरोकेंउत्तर: कवि के अनुसार जो मनुष्य स्वयं अपने लिए ही नहीं जीता, बल्कि समाज के लिए जीता है, वह कभी नहीं मरा करता। ऐसा मनुष्य संसार में अमर हो जाता है, स्वयं अपने लिए खाना, कमाना और जीना तो पशु का स्वभाव है। सच्चा मनुष्य वह है जो सम्पूर्ण मनुष्यता के लिए जीता और मरता है।

पढ़ना:   जातिवाद कब से शुरू हुआ?

रानी का कौन सा भाव प्रकट हो रहा है?

इसे सुनेंरोकें(iii) रानी का कौन-सा भाव प्रकट हो रहा है? (क) पश्चाताप का (ख) खिन्नता का (ग) प्रसन्नता का (घ) दुष्टता का (iv) ‘सौ बार धन्य वह एक लाल की माई’ किसने कहा? सब सुमन एक उपवन के, एक हमारी धरती सबकी जिसकी मिट्टी में जन्मे हम, मिली एक ही धूप हमें है सींचे गए एक जल से हम।

तलवार की आवश्यकता कब पड़ती है *?

इसे सुनेंरोकेंExplanation: Q1 तलवार और ढाल की आवश्यकता तब पड़ती है जब देश में युद्ध का समय होता है।

तलवार की आवश्यकता क्यों होती है?

इसे सुनेंरोकेंउत्तर: तलवार दैहिक शक्ति का प्रतीक है। युद्ध के क्षेत्र में वीर के हाथ में तलवार ही उसका उपयोगी शस्त्र होता है। इसके अलावा हिंसक जंतुओं से बचने के लिए तलवार की आवश्यकता पड़ती है।

इसे सुनेंरोकेंकविता में किसान की पीड़ा के लिए किन्हें ज़िम्मेदार बताया गया है? उत्तर:- कविता में किसान की पीड़ा के लिए जमींदार, महाजन व कोतवाल को ज़िम्मेदार बताया है। महाजन ने अपना ब्याज और ऋण वसूलने के लिए किसान के खेत, गाय-बैल और घर-बार बिकवा दिया। उसके कारकुनों ने विरोध करने के कारण उसके जवान बेटे को मरवा दिया।

पढ़ना:   वेग में परिवर्तन की दर को क्या कहते हैं?

क्या रोकेंगे प्रलय मेघ?

इसे सुनेंरोकेंक्या रोकेंगे प्रलय मेघ ये, क्या विद्युत-घन के नर्तन, मुझे न साथी रोक सकेंगे, सागर के गर्जन-तर्जन। मैं अविराम पथिक अलबेला रुके न मेरे कभी चरण, शूलों के बदले फूलों का किया न मैंने मित्र चयन।